एनबीसीसी - सार्वजनिक क्षेत्र की परियोजना प्रबंधन परामर्श, ऊर्जा क्षेत्र हेतु सिविल अवसंरचना तथा रियल एस्टेट विकास कंपनी है |         एनबीसीसी रियल एस्टेट विकासकर्ता भी है |          आईएस/आईएसओ- 9001:2008 प्रमाणित कम्पनी है ।

मुख्य पृष्ठ
एनबीसीसी के बारे में
उपलब्धियां
निदेशक मंडल
प्रचालन क्षेत्र
निगम के आधारभूत मूल्य
आई एस ओ
गुणवत्ता नीति
समझौता ज्ञापन
हमारी परियोजनाए
--देश में
--विदेश में
निविदा सूचनाएं
निगमित अभिशासन
संरक्षा नीति
हमारे कुछ ग्राहक
पुस्तकालय
नैगम सामाजिक उत्तरदायित्व
मानव संसाधन विकास
--परिदृश्य
--कल्याण
राजभाषा विभाग की ओर
कम्पनी

शहरी विकास मंत्रालय (एमओयूडी) के अंतर्गत भारत सरकार के उद्यम के रूप में नेशनल बिल्डिंग्स कंस्‍ट्रक्‍शन कार्पोरेशन लिमिटेड (एनबीसीसी) की स्‍थापना नवंबर, 1960 में हई। यह एक अनुसूची 'ए' मिनी रत्‍न कंपनी है। । विस्तार से.....
वित्तीय परिणाम

एनबीसीसी एक सार्वजनिक क्षेत्र की परियोजना प्रबंधन परामर्श, ईपीसी संविदा तथा रियल एस्‍टेट विकासकर्ता कंपनी है जिसने वित्‍त वर्ष 2013-14 में 247.45 करोड़ रूपये का निवल लाभ दर्ज किया है। विस्तार से...
रियल एस्टेट विकासकर्ता

केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी कंपनी, एनबीसीसी ने वर्ष 1988 में रियल एस्‍टेट गतिविधियों की शुरूआत की। 25 वर्षों से अधिक समय में एनबीसीसी ने अनेक रियल एस्‍टेट वाणि‍ज्यिक तथा आवासीय परियोजनाओं का निष्‍पादन कार्य किया है व। विस्तार से....

मुख्य खबरें....
एनबीसीसी को स्कोप मेरिटोरियस पुरस्कार ।
एनबीसीसी को दून एण्ड ब्रैड्स्ट्रीट इंफ्रा पुरस्कार।
एनबीसीसी द्‌वारा निर्मित न्यू मोती बाग परिसर की जापान के प्रतिनिधि मंडल द्‌वारा प्रशंसा की गई।
एनबीसीसी में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) निदेशक द्‌वारा सतर्कता जागरूकता सप्ताह का उद्‌घाटन।
एनबीसीसी द्‌वारा राष्ट्रपति भवन संग्रहालय का निर्माण किया जाएगा।
एनईडीसीएसटी पेंशन एन्युइटी वितरण समारोह ।
एनबीसीसी द्‌वारा प्रथम दीवाली मेला आयोजित।
एनबीसीसी में स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत।
एनबीसीसी द्‌वारा निर्मित न्यू मोती बाग परिसर को आईजीबीसी सिल्वर ग्रीन होम अवार्ड।
माननीय सांसद श्री मनोज तिवारी तथा श्रीमती पिंकी आनंद भारत की अतिरिक्त न्यायाभिकर्ता द्‌वारा श्री बी. भट्टाचार्य ,डीजीएम(सीसी) को पीएसयू संगठन में उल्लेखनीय योगदान के लिए इंद्रप्रस्थ मीडिया रत्न अवार्ड प्रदान किया ।
एनबीसीसी ने वर्ष 2013-14 के लिए सरकार को लाभांश प्रदान किया ।
एनबीसीसी को को एनएआरईडीसीओ राष्ट्रीय रियल एस्टेट पुरस्कार मिला।
एनबीसीसी की 54 वीं वार्षिक आम बैठक के परिणाम।
एनबीसीसी की 54 वीं वार्षिक आम बैठक आयोजित ।
एनबीसीसी ने एनएडब्ल्यूएडीसीओ के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए ।
एनबीसीसी को आर्क ऑफ एक्सीलेंस पुरस्कार प्रदान किया गया ।
एनबीसीसी ने सीआइडीबीएच,मलेशिया के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए ।
एनबीसीसी ने जम्मू तथा कश्मीर सरकार को मुफ्त एम्बुलेंस प्रदान की गई।
एनबीसीसी ने प्रथम तिमाही के आदेश बही लक्ष्य को प्राप्त किया।
एनबीसीसी द्‌वारा निर्मित आईटीबीपी क्वार्टर गार्ड का उद्‌घाटन।
एनबीसीसी को आईआईआईई द्‌वारा निष्पादन उत्कृष्टता पुरस्कार प्रदान किया गया ।
माननीय गृह राज्य मंत्री श्री किरन रिजिजू द्‌वारा एसवीपी राष्ट्रीय पुलिस अकादमी, हैदराबाद में एनबीसीसी द्‌वारा निर्मित एसटीडब्ल्यू(स्पेशल टेक्टिक्स विंग) का उद्‌घाटन किया गया।
श्री महबूब आलम, आईपीएस, डीजी-एनडीआरएफ द्‌वारा गुंटूर (आंध्र प्रदेश) में एनबीसीसी के एनडीआरएफ 10 वें बटालियन की आधारशिला रखी गई।
एनाबीसीसी की विशिष्ट उपलब्धि , कंपनी ने नवरत्न का दर्जा प्राप्त किया।
शहरी विकास मंत्री द्‌वारा एनबीसीसी पुनर्विकास परियोजना की अतिरिक्त राशि वित्त मंत्री को सौंपी गई।
एनबीसीसी ने वर्ष 2013-14 में 25 % वृद्‌धि दर्ज की।
न्यू मोती बाग जीपीआरए परिसर में प्लास्टिक कचरा रिसाइकल संयंत्र का उद्‌घाटन।
एनबीसीसी ने वर्ष 2013-14 में 25 % वृद्‌धि दर्ज की।
ईस्ट किदवई नगर पुनर्विकास परियोजना में एनबीसीसी इनसीटू सी एण्ड डी कचरा रिसाइकल संयंत्र का उद्‌घाटन।

 

डॉ. अनूप कुमार मित्तल
अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक

संदेश

हमारा विजन

हमारा विजन दूर-दूर तक प्रशंसित तथा श्रेष्ठ भवन निर्माण सेवाएं प्रदान करने वाली कम्पनी बनना है।
हमारा मिशन

  • व्यावहारिक, सुरक्षित, नवीन तथा लागत प्रभावी निर्माण उत्पाद तथा सेवाएं, ग्राहकों को प्रदान करना ताकि उनकी जरूरतें पूरी होने के साथ -साथ जरूरी सहायक अवसंरचना भी उन्हें मिल सके।
  • राष्ट्रीय समृद्धि में अपना योगदान देने के लिए सामाजिक जिम्मेदारी से कार्य करना, पर्यावरण संबंधी अपने उत्तरदायित्व में और बढ़ोतरी करना तथा अपने ग्राहकों, कर्मचारियों, शेयरधारकों तथा अन्य स्टेकहोल्डरों की खुशहाली को बढ़ावा देना।
  • विकास करके अग्रणी कंपनी बनना तथा प्रतिस्पर्धात्मक स्थितियों में महत्वपूर्ण बनने के लिए भवन निर्माण सेवाओं तथा इससे संबंधित गतिविधियों में सर्वोत्तम तरीके तथा स्टेट आफ द आर्ट प्रौद्योगिकी को अपनाना। विस्तार से....
  • हमारी परियोजनाएं


    |सतर्कता | सूचना अधिकार अधिनियम 2005 (आरटीआई) | हमसे सम्पर्क करें | साइट मैप | अंग्रेजी |